ये कैसी ममता..!! लड़की हुई तो जन्म लेते ही मरने फेंका…

SURAJPUR

एक मां ने अपने नवजात बच्ची को मारने के लिए झाडियों में फेंक दिया तो दूसरी मां ने उसे नया जीवन दिया पुरा मामला सूरजपुर जिले के नगर पंचायत प्रतापुर का है , जहं के वार्ड क्रमांक दस में मानवता को शर्मसार करने वाला मामला सामने आया है।यहां रविवार की रात को झाड़ियों में किसी ने जन्म के बाद बच्ची को मरने के लिए छोड़ दिया और सोमवार की एकदम सुबह बगल के घर की महिला ने उसे हॉस्पिटल पहुचाया।

जानकारी के अनुसार नगर के वार्ड नंबर दस निवासी प्रतिमा कश्यप सुबह चार बजे करीब घर से निकली उन्हें बच्चे के रोने की आवाज सुनाइं दी।

जहां इधर उधर देखने के बाद उन्हें घर के पास ही पुदूस झाड़ी में छोटी सी बच्ची दिखी वही बच्ची को इस तरह झाडियों में देख उनके होश उड़ गए तभी पास जाकर देखा तो बच्ची के शरीर पर चीटियां चल रहीं थीं।

बिना देर किए उन्होंने बच्ची को उठाया और चीटियां साफ की जिसके बाद बच्ची को लेकर स्वास्थ्य केंद्र पहुंचे । वहीं स्वास्थ्य केंद्र में बच्ची का प्रारंभिक उपचार कर उसे बेहतर इलाज के लिए जिला अस्पताल सरजपुर में ICU में रखा गया है।

क्या कहा बच्ची के बारे में डॉक्टरों ने …

जहां डॉक्टरों की माने तो अभी बच्ची की स्थिति सामान्य बताई जा रही है। वही इस पूरे मामले में प्रतापपुर पुलिस गंभीरता से जांच में जुट गई है।

यह कोई पहली घटना नहीं है…

आपको बता दे कि नवजात शिशु का मिलन यह कोई पहली घटना नहीं है ‌ऐसी घटना अक्सर सूरजपुर जिले के अलग-अलग इलाकों से सामने निकल कर आती है।

मानवता को शर्मसार करने वाली इस घटना को लेकर नगर में चर्चा है वहीं दूसरी तरफ जहां एक मां ने अपने ही बच्चे को मरने के लिए फेक दिया,, तो वही दूसरी मां ने उसे जीवनदान दिया।

अब देखने वालीबात होगी की नवजात शिशु को जन्म देते ही करने के लिए फेंकने वाले दोषियों तक पुलिस पहुंच पातीहै या नहीं।

283

About Post Author

error: Content is protected !!