Categories

Social menu is not set. You need to create menu and assign it to Social Menu on Menu Settings.

14th April 2024

ख ख‌ सू: हज , उमरा ले जानें के नाम पर एजेंटो ने दीया धोखा,, पीड़ितों ने पुलिस से लगाई गुहार,, करोड़ो की ठगी का आरोप,,

1 min read

सूरजपुर – हज ,उमरा कराने ले जानें के नाम पर अंबिकापुर के एजेंट द्वारा धोखा देने का सनसनीखेज मामला सामने आया है,, जहा सूत्रों के मुताबिक संभाग भर के 500 से ज्यादा लोगों के साथ ठगी होने की जानकारी है,, फिलहाल सूरजपुर के पीड़ितों ने कोतवाली पुलिस से लिखित शिकायत किया है,,कोतवाली पुलिस में लिखित में मानपुर के दर्जन भर पीड़ितों ने शिकायत किया की हज करने हेतु इच्छुक होने पर अनावेदक क्रमांक -1- आरोपी इमरान रजा आ. नवाब, एजेन्ट इंटरनेशनल टूर्स ट्रेवल्स, पता जामा मस्जिद, फर्स्ट फ्लोर, सॉप नम्बर 4 जयस्तम्भ चौक, अम्बिकापुर, जिला- सरगुजा (छ.ग.) मोबाईल नम्बर 8319140992, 9406257047 अनावेदक क्रमांक – (2) हाजी तनवीर, संस्था संचालक फर्म अलीफ हज/उमराह ज्यारत टूर प्रा.लि.कं. पता बड़ी मस्जिद एतवारी नागपुर (महाराष्ट्र) मोबाईल नम्बर जो अपने आपको हज/उमराह भेजने हेतु अपने आपको एजेन्ट बताता है ।

वह माह सितम्बर वर्ष 2022 के प्रथम सप्ताह में आवेदकगण से मोबाइल के माध्यम से संपर्क कर आश्वासन दिया कि प्रत्येक जायरीन का 65,000 – 65,000 रुपये में उमराह करा देगा तत्पश्चात ग्राम मानुपर आकर आवेदकगण से व्यक्तिगत संपर्क करता रहा इसी बीच प्रत्येक आवेदकगण से बतौर एडवांस के रूप में राशि मो. 20.000- 20,000 रूपये प्राप्त किया तथा यह बोला कि शेष राशि 45000 45000 रूपये बीच में प्राप्त कर लूँगा कि शेष राशि भी इसी अनुक्रम में आवेदिका हाजरा बीबी से एकमुस्त 70,000/- रूपये एवं शेष प्रत्येक अनावेदक से 45000 – 45000 रूपये मानपुर में प्राप्त कर लिया कुल राशि अनावेदकगण ने बैंक ट्रांसफर के माध्यम से अपने खाते में प्राप्त कर लिया है।

एवं सभी आवेदकगण का मूल पासपोर्ट भी लिया तथा आश्वासन दिया कि 18/02/2023 को मुम्बई से सभी आवेदकगण का फ्लाइट अरब के लिये है उसी आधार पर आवेदकगण ने मुम्बई तक जाने के लिये ट्रेन टिकिट कन्फर्म करा लिये, तत्पश्चात पुनः आश्वासन दिये कि 18/02/2023 के बजाय 26/02/2023 को मुम्बई से फ्लाईट है। आवेदकगण पुनः ट्रेन टिकिट कराये किन्तु इसके बाद से अनावेदक क्रमांक – 1 अपना मोबाईल बंद करके अपने आफिस के पते पर ताला लगाकर फरार हो गया है। आवेदक, अनावेदक क्रमांक-2 से मोबाईल फोन से संपर्क करने पर आवेदक क्रमांक-2 कहता है कि प्रत्येक आवेदकगण 15000 – 15000 हजार रूपया लाकर दो तभी सभी आवेदकगण का पासपोर्ट वापस देंगें नहीं तो पासपार्ट वापस नहीं मिलेगा। उल्लेखनीय है कि आवेदकगण से पासपोर्ट लेकर अनावेदक क्रमांक-1 ने अनावेदक क्रमांक-2 को दिया है इस प्रकार अनावेदकगण के द्वारा आवेदकगण की आस्था के साथ खिलवाड़ करके अनावेदकगण के द्वारा आपस में षड़यंत्र रचकर धोखा देकर राशि की ठगी किया जाकर गंभीर अपराध किया गया है जिससे आवेदकगण को गंभीर मानसिक. आर्थिक एवं सामाजिक क्षति हो रही है।वही अनावेदकगण आरोपियों के विरूद्ध अपराध दर्ज कर प्रत्येक आवेदकगण की राशि वापस दिलाये जाने की गुहार लगाए हैं।

1837

About Post Author

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!